आप खुश किस्मत हो कि आपको ऐसे कप्तान मिले हैं। शुभकामनाएं दी सहवाग ने। किसे जानते हैं?

sehwag
- Advertisement -

प्रशंसकों की ऊंची उम्मीदों के बीच 2022 की आईपीएस श्रृंखला कल पूरे धूमधाम से मुंबई के वानखेड़े मैदान में शुरू होने वाली है। मई 29 तारीख तक मुंबई, पुणे और अहमदाबाद नगर में खेली जाने वाली इस श्रृंखला में कप जीतने के लिए सभी टीम तीव्र अभ्यास कर रहे हैं। विश्व प्रसिद्ध वानखेड़े मैदान में शुरू होने वाली पहली मैच में जडेजा के नेतृत्व में वर्तमान चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स श्रेयस अय्यर के नेतृत्व में कोलकाता नाइट राइडर्स से भिड़ने वाले हैं।

सब इस पहली मैच के लिए बहुत उत्सुकता से इंतजार कर रहे थे और ऐसी स्थिति में अचानक चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। आईपीएल की शुरुआत के लिए अब सिर्फ एक ही दिन ही बाकी है और ऐसी स्थिति में अचानक धोनी के घोषणा के कारण सब चौंक गए हैं क्योंकि पिछले 2008 में जब पहली बार आईपीएल श्रृंखला की शुरुआत हुई तब से लेकर अब तक वे लगातार चेन्नई टीम की रीड की हड्डी बन कर, उस टीम की धड़क बनकर खेल रहे हैं।

- Advertisement -

जैसे कि उन्होंने भारतीय टीम के लिए आईसीसी द्वारा आयोजित सभी प्रकार के विश्वकप दिलाए हैं, उसी तरह उनकी करिश्मा के जरिए उनके अद्भुत कप्तानी के जरिए उन्होंने अब तक चेन्नई सुपर किंग्स टीम के लिए 4 बार आईपीएल का खिताब दिलाया है। इस जीत के जरिए वे आईपीएल श्रृंखला के दूसरे सबसे सफल कप्तान बने हैं।

अब 40 साल से ऊपर होने की वजह से चेन्नई सुपर किंग टीम के भविष्य को मध्य नजर रखते हुए इतने सालों से उस टीम की कप्तानी कर रहे धोनी ने अब उस पद से इस्तीफा देकर उनकी जगह स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को टीम का कप्तान बनाया है और उन्होंने निर्णय लिया है कि इस साल वे उस टीम में साधारण खिलाड़ी बनकर खेलेंगे । आईपीएल श्रृंखला के ज्यादातर साल उन्होंने चेन्नई टीम की कप्तानी की है और जब 2016 और 2017 में चेन्नई सुपर किंग्स को बैन किया था तब उन्होंने पुणे टीम के लिए खेला ।

इस तरह धोनी ने अब तक कुल 204 आईपीएल मैच में कप्तानी की है और उसमें उन्होंने 121 मैच में जीत हासिल की है और उनकी विनिंग एवरेज 59.20 है। यह आईपीएल क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा बार कप जीते रोहित शर्मा से भी बेहतर रिकॉर्ड है जिसकी वजह से ये आईपीएल के सबसे सफल कप्तान बने हैं। कहा जाए तो आईपीएल के इस ब्रह्माण्ड विकास में धोनी का भी बहुत बड़ा हाथ है ।

- Advertisement -

इसकी वजह से आईपीएल प्रशासन सहित सभी भूतपूर्व जांभवन खिलाड़ी धोनी को अपनी शुभकामनाएं दे रहे हैं। उसी तरह भारत के भूतपूर्व धमाकेदार खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग ने कहा है कि चेन्नई टीम बहुत ही खुश किस्मत है कि उन्हें धोनी की तरह एक कप्तान मिले हैं। उन्होंने धोनी की अपनी स्टाइल से प्रशंसा की है। इसके संबंध में उन्होंने अपने ट्विटर पेज में ट्वीट किया है कि यह भारतीय प्रीमियर लीग की एक अद्भुत कहानियों में से एक है । धोनी और चेन्नई के बीच का संबंध लाजवाब है जो कि बहुत कम में देखा जा सकता है। चेन्नई टीम बहुत ही खुश किस्मत है कि उन्हें धोनी की तरह नेता मिले हैं और उन्हें जो सहयोग और प्यार टीम के प्रशासन और इस शहर से मिली है वह अविश्वसनीय है।

जैसे कि उन्होंने कहा है जरूर एमएस धोनी की तरह एक कप्तान मिलने के लिए चेन्नई सुपर किंग टीम बहुत ही खुश किस्मत है । ऐसा कहना बिल्कुल ठीक रहेगा कि चेन्नई टीम की प्रसिद्धि का प्रमुख कारण धोनी ही है क्योंकि उन्होंने भारतीय टीम के लिए सबसे पहले टी-20 विश्वकप दिलाई और एकदिवसीय विश्वकप भी दिलाई। वैसे ही उन्होंने चेन्नई टीम के लिए चार आईपीएल कप दिलाए और दो चैंपियंस लीग टी20 कब दिलाए है। इसके जरिए ही इन्होंने चेन्नई टीम तो एक मशहूर टीम बनाया है।

साथ ही जब 2008 में आईपीएल की शुरुआत हुई तब मुंबई के लिए सचिन, कोलकाता के लिए गांगुली, बंगलुरु के लिए द्रविड़, दिल्ली के लिए सहवाग, जैसे हर टीम के लिए उनके राज्य से ही जांभवन को कप्तान नियुक्त किया गया था । लेकिन उस तरह तमिलनाडु के लिए कोई भी स्टार खिलाड़ी नहीं थे। इसकी वजह से झारखंड के एम एस धोनी को चेन्नई टीम का कप्तान नियुक्त किया गया था। उस समय धोनी ने लगातार चेन्नई टीम को ऐसे जीत दिलाई जो सचिन ,गांगुली, द्रविड, सहवाग जैसे खिलाड़ी भी नहीं कर पाए।

- Advertisement -

साथ ही उसके बाद कोलकाता पंजाब जैसे टीम के लिए एक स्थाई कप्तान नहीं मिल पाए लेकिन दूसरी तरफ 2008 से लेकर 2021 तक चेन्नई टीम के लिए धोनी एक जबरदस्त कप्तान थे। उनके नेतृत्व में चेन्नई टीम ने 12 सीजन खेले हैं जिसमें उन्होंने 11 बार प्ले ऑफ राउंड खेले हैं और उसमें से 9 बार फाइनल तक जाकर 4 बार कप जीते हैं।

इस साल कप्तानी से बाहर हुए धोनी, हो सकता है कि अगले साल आईपीएल श्रृंखला से पूरी तरह बाहर हो जाएंगे। लेकिन भरोसा किया जा रहा है कि रिटायरमेंट की घोषणा के बाद भी एक कोच के रूप में वे लगातार चेन्नई सुपर किंग्स टीम के साथ हमेशा के लिए जुड़े रहेंगे । उस नजरिया से देखा जाए तो जरूर सहवाग के शब्द बिल्कुल सही है। उनकी तरह एक कप्तान का मिलना चेन्नई टीम का सौभाग्य है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here