आपको आराम की आवश्यकता क्यों है? पूर्व कोच ने खुलकर आलोचना की और राहुल द्रविड़ के बारे में बात की

Ravi Shastri
- Advertisement -

2022 आईसीसी टी20 विश्व कप में दुनिया की नंबर एक टी20 टीम के रूप में स्थान पाने वाले रोहित शर्मा की अगुआई में भारत ने हमेशा की तरह नॉकआउट दौर से बाहर होकर प्रशंसकों को निराश किया। इससे पहले 2017 में विराट कोहली और कप्तान और कोच के रूप में काम कर चुके रवि शास्त्री पिछले साल दुबई में हुए टी20 विश्व कप के बाद कोच के पद से हट गए थे क्योंकि उन्हें द्विपक्षीय सीरीज में कई जीत मिलने के बावजूद विश्व कप नहीं जीत पाने के कारण आलोचना का सामना करना पड़ा था।

नवनियुक्त रोहित शर्मा-राहुल द्रविड़ की जोड़ी के बाद, भारत, जो उनके जैसे द्विपक्षीय श्रृंखलाओं में प्रभावशाली रहा है, ने तनावपूर्ण एशिया कप और टी 20 विश्व कप में वही पुराना हाल दिखाया है। नतीजतन, प्रशंसकों को एक साल के भीतर पता चल गया है कि वे कोई बदलाव नहीं कर पाए हैं और इस नए गठबंधन से काफी असंतोष व्यक्त कर रहे हैं। क्‍योंकि उन्‍होंने प्रयोग के नाम पर पिछले एक साल में इतने बदलाव किए हैं कि उन्‍होंने कोई क्षेत्र नहीं छोड़ा है और ज्‍यादातर युवा खिलाडि़यों को लगातार मौका नहीं मिला है।

- Advertisement -

इससे भी बड़ी बात यह है कि रोहित शर्मा, जिन्हें कप्तान के रूप में हमेशा टीम के साथ रहना चाहिए, को गैर-महत्वपूर्ण सीरीज में आराम दिया गया और इस साल इतिहास में पहली बार ऋषभ पंत और शिखर धवन सहित कप्तान के रूप में 7 अलग-अलग खिलाड़ियों का उपयोग किया गया। इस बीच, विराट कोहली सहित वरिष्ठ खिलाड़ी काम के बोझ को कम करने के लिए कभी-कभार आराम कर रहे हैं, और कोच राहुल द्रविड़ विश्व कप के बाद न्यूजीलैंड श्रृंखला में उनके साथ ही आराम पर हैं। इसलिए यह मजेदार है कि कोच ऐसा तब कर रहे हैं जब सीनियर खिलाड़ियों की आलोचना हो रही है कि आईपीएल सीरीज में खेलने के दौरान जो काम का बोझ नहीं होता है वह सिर्फ देश के लिए खेलते हुए हो रहा है।

इस मामले में पूर्व कोच रवि शास्त्री ने राहुल द्रविड़ से सवाल किया है कि क्या आईपीएल के दौरान उपलब्ध आराम साल के 2 महीने के लिए पर्याप्त नहीं है और उनकी जगह कार्य करने के लिए उपयुक्त वीवीएस लक्ष्मण की प्रशंसा की। हाल ही में एक इंटरव्यू में उन्होंने इस बारे में क्या कहा, यहां जानिए। “मैं हमेशा विश्राम में विश्वास नहीं करता। क्योंकि मैं अपने खिलाड़ियों को समझना चाहता हूं और अनुशासन के साथ टीम को मैनेज करना चाहता हूं। इसके लिए टीम के साथ रहने की जरूरत है।”

उन्होंने कहा, “अगर आप कोच हैं तो आपको आराम की क्या जरूरत है? आईपीएल के दौरान 2-3 महीने का ब्रेक कोचों के लिए काफी आराम है। लेकिन दूसरे मौकों पर मुझे लगता है कि कोच को ड्यूटी पर होना चाहिए। और लक्ष्मण उनके स्थान पर बने रहने के लिए फिट हैं। आने वाले वर्षों में उनके नेतृत्व में युवा खिलाड़ियों को खोजना मंत्र होना चाहिए। अगले टी20 विश्व कप में 2 साल बचे हैं, ऐसे युवा खिलाड़ियों पर नज़र डालें जो इस दौरान निडर होकर खेलेंगे। ऐसा रवैया बनाएं जहां हम भविष्य में किसी भी चीज की चिंता किए बिना आक्रामक तरीके से खेल सकें।”

उन्होंने कहा, “इसी तरह टी20 क्रिकेट में हमें इंग्लैंड का अनुसरण करना चाहिए और मैच विजेता तैयार करना चाहिए। क्योंकि वे 2016 के बाद दुनिया में एकमात्र ऐसे हैं जो सबसे नवीन दृष्टिकोण को सफलतापूर्वक चला रहे हैं। उनकी तरह हमें भी बैठकर बात करनी होगी और सफेद गेंद के क्रिकेट में जरूरी बदलाव करना होगा चाहे वह 20 ओवर का हो या 50 ओवर का। इसके लिए हमें यह सोचना होगा कि कैसे हम बहुत सारे बदलाव करने के डर के बिना प्रतिभा को निखार सकते हैं।”

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here