इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे में यह हो सकती है भारत की संभावित प्लेइंग 11

IND vs ENG
- Advertisement -

मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में सीरीज के तीसरे और अंतिम वनडे मैच में भारत और इंग्लैंड एक-दूसरे से भिड़ेंगे। तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला वर्तमान में 1-1 पर रुकी हुई है और श्रृंखला का निर्णायक मैच रविवार (17 जुलाई) को होगा।

भारत का नेतृत्व रोहित शर्मा कर रहे हैं जबकि इंग्लैंड अपने नए सफेद गेंद वाले कप्तान के रूप में जोस बटलर के नेतृत्व में एक नए युग का गवाह बन रहा है। भारत ने ओवल में खेले गए सीरीज के पहले मैच में मेजबान टीम को 10 विकेट से हराया। हालाँकि, इंग्लैंड की टीम ने लॉर्ड्स में वापसी की और श्रृंखला को बराबर करने के लिए भारत पर 100 रन की जीत दर्ज की।

- Advertisement -

भारत की गेंदबाजी इकाई जसप्रीत बुमराह और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के नेतृतव में इंग्लैंड की टीम पर पहले दो मैचों में हावी दिखी है। लेकिन एक बार फिर भारतीय टीम के मध्यक्रम की स्थिरता पर सवाल खड़ा हो गया है, यह भी स्पष्ट हो गया कि भारत अभी भी शीर्ष क्रम पर बहुत अधिक निर्भर है। आइये एक नजर डालते हैं तीसरे वनडे में क्या हो सकती है भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन :

1. रोहित शर्मा
भारतीय कप्तान इंग्लैंड के खिलाफ पहले गेम में नाबाद 76 रन बनाकर भारत को अपने सलामी जोड़ीदार शिखर धवन के साथ मिलकर फिनिशिंग लाइन के पार ले गए थे। हालाँकि, लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे मैच में वह अपने प्रदर्शन को दोहरा नहीं सके और इंग्लैंड के तेज गेंदबाज रीस टॉपले के खिलाफ डक पर आउट हो गए।

2. शिखर धवन
पिछले कुछ वर्षों में टी20ई और टेस्ट टीमों से बाहर रहने के बाद से धवन भारत के लिए केवल एकदिवसीय क्रिकेट खेलते हैं। बाएं हाथ के बल्लेबाज को बल्ले से प्रभाव डालना अभी भी बाकी है। उन्होंने पहले मैच में रोहित शर्मा के साथ अपने 114 रन के स्टैंड के दौरान संभल-संभल कर खेला। उन्होंने दूसरे मैच में भारत के 246 रनों के लक्ष्य का पीछा करने में केवल नौ रन बनाए।

- Advertisement -

3. विराट कोहली
कोहली कमर की चोट के कारण पहले वनडे से चूक गए और दूसरे गेम के लिए वापस लौटे। उन्होंने रीस टोपले की गेंदबाजी पर कुछ बेहतरीन ड्राइव खेली और तीन चौके लगाए। हालाँकि, वह अपनी पारी को लम्बा नहीं कर सके और डेविड विली की गेंद पर 16 रन बनाकर आउट हो गए।

4. सूर्यकुमार यादव
इंग्लैंड के मौजूदा दौरे में सूर्यकुमार यादव बल्ले से शानदार फॉर्म में हैं। उन्होंने नॉटिंघम में फाइनल मैच में अपना पहला T20I शतक बनाया। उन्हें द ओवल में बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला। हालाँकि, लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे वनडे में उन्होंने 29 गेंदों में 27 रन बनाकर टॉपली की गेंद पर अपना विकेट गंवाया।

5. ऋषभ पंत
दूसरे एकदिवसीय मैच में, पंत शून्य पर आउट हो गए। ब्रायडन कार्स ने फुल टॉस फेंका गेंद जिसे पंत मिड-ऑन पर खेलने चले गए जहां स्थानापन्न क्षेत्ररक्षक फिल साल्ट मौजूद थे जिन्होंने कैच पूरा किया। पंत ने एकतरफा टेस्ट में शानदार शतक लगाया लेकिन उन्हें मैनचेस्टर में तीसरे वनडे में अपनी बल्लेबाजी का मास्टरक्लास दिखाना होगा।

- Advertisement -

6. हार्दिक पांड्या
दूसरे एकदिवसीय मैच में, जहां भारत 246 रनों के मध्यम लक्ष्य का पीछा कर रहा था हार्दिक भारत के संयुक्त सर्वोच्च स्कोरर थे। उन्होंने 44 गेंदों में 29 रन बनाये। भारतीय ऑलराउंडर ने गेंद के साथ भी अच्छा प्रदर्शन करते हुए जेसन रॉय और लियाम लिविंगस्टोन के विकेट चटकाए।

7. रवींद्र जडेजा
जडेजा ने दूसरे मैच में बल्ले से अच्छी पारी (44 गेंदों में 29 रन) खेली, लेकिन अपने पांच ओवर में एक भी विकेट लेकर नहीं लौटे। आखिरी वनडे खेल सकते हैं जडेजा, नहीं तो उनकी जगह अक्षर पटेल खेलेंगे।

8. मोहम्मद शमी
शमी ने इस सीरीज में अब तक दो मैचों में चार विकेट लिए हैं। उन्होंने इंग्लैंड के बल्लेबाजी क्रम को गिराने में अपने नए गेंद के साथी जसप्रीत बुमराह की सहायक भूमिका निभाई। सीरीज के पहले मैच में उन्होंने 3/31 के आंकड़े के साथ गेंदबाजी समाप्त की थी और इसके बाद लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे मैच में जोस बटलर को क्लीन बोल्ड करने के लिए शानदार डिलीवरी की। शमी ने 28 गेंदों में 23 रन की पारी में दो चौके और एक छक्का लगाते हुए अपने बल्लेबाजी कौशल का भी प्रदर्शन किया।

- Advertisement -

9. जसप्रीत बुमराह
बुमराह ने पहले एकदिवसीय मैच में आग लगा दी और इंग्लैंड की बल्लेबाजी इकाई के खिलाफ 7.3 ओवर में 19 रन देकर 6 विकेट के साथ अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे मैच में भी उन्होंने दो विकेट चटकाए।

10. युजवेंद्र चहल
अगर बुमराह पहले गेम में कहर ढाने वाले थे तो चहल ने लॉर्ड्स में यही चीज दोहराई। लेग स्पिनर ने जॉनी बेयरस्टो, जो रूट और बेन स्टोक्स जैसे बल्लेबाजों को आउट कर इंग्लैंड को एक और कम स्कोर पर समेटने में मदद की।

11. प्रसिद्ध कृष्णा
इंग्लैंड के खिलाफ दोनों ही एकदिवसीय मैचों में भारत की गेंदबाजी इकाई ने शानदार प्रदर्शन किया है। ऐसी उम्मीद है, भारतीय टीम आखिरी मैच में भी प्रसिद्ध कृष्णा के साथ बानी रहेगी।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here