भारत तभी जीत सकता है जब आप इसमें सुधार करेंगे – सौरव गांगुली की विराट कोहली को सलाह

Sourav Ganguly Virat Kohli
- Advertisement -

ऐतिहासिक बार्डर-गावस्कर कप 9 फरवरी से नागपुर में शुरू हो रहा है। अगर भारत जून में होने वाले 2023 टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए क्वालीफाई करना चाहता है तो इस श्रृंखला में भारत को कम से कम 3 मैच जीतना होगा। दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलिया, जिसने पहले ही फाइनल में जगह पक्की कर ली है, 2004 के बाद से भारतीय सरजमीं पर अपनी पहली टेस्ट श्रृंखला जीतने की कोशिश करेगा।

हालांकि, घर में हमेशा मजबूत रहने वाला भारत 2012 से पिछले 10 सालों में किसी भी टीम के खिलाफ टेस्ट सीरीज नहीं हारा है इसलिए इस बार भी भारतीय टीम को जीतकर फाइनल के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीद है। इसमें स्पिनर अश्विन, जडेजा, अक्षर पटेल और कुलदीप यादव के गेंदबाजी विभाग में प्रभाव छोड़ने और जीत में अहम भूमिका निभाने की उम्मीद है।

- Advertisement -

इस सीरीज में जहां गेंदबाजों के दबदबे की उम्मीद है, वहीं बल्लेबाजी के मोर्चे पर भारत की सफलता के लिए होनहार स्टार विराट कोहली से दमदार प्रदर्शन की दरकार होगी क्योंकि 2013 में सचिन तेंदुलकर के संन्यास के बाद विराट कोहली को पुजारा जैसे अन्य खिलाड़ियों के अलावा बल्लेबाजी विभाग की रीढ़ माना जाता है।

ऐसे में पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का कहना है कि भारत को बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जीतने के लिए विराट कोहली का शानदार प्रदर्शन जरूरी है और उन्होंने उनसे अपनी बल्लेबाजी में सुधार करने को कहा है। गांगुली ने हाल ही में एक साक्षात्कार में कहा कि उनका मानना ​​है कि भारत श्रृंखला जीतेगा और 2023 टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में फिर से ऑस्ट्रेलिया का सामना करेगा।

- Advertisement -

उन्होंने कहा, “उसने श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ हाल की सीरीज में काफी अच्छी बल्लेबाजी की। हालांकि, उन्हें अभी भी टेस्ट क्रिकेट में सुधार करने की जरूरत है। क्योंकि भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज जीतने के लिए उन पर काफी भरोसा कर रहा है। दूसरी ओर, एक मजबूत ऑस्ट्रेलियाई टीम चुनौती देगी इसलिए मुझे उम्मीद है कि यह श्रृंखला एक आग की लड़ाई होगी।”

उन्होंने आगे कहा, “मुझे उम्मीद है कि दोनों टीमें इस सीरीज में कड़ी टक्कर देंगी क्योंकि दोनों टीमें अच्छी क्वालिटी की हैं। इस बात की काफी संभावना है कि ये दोनों टीमें टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल खेलेंगी।” उनके मुताबिक वनडे क्रिकेट में 46 शतक लगाने वाले विराट कोहली के टेस्ट क्रिकेट में अभी 27 शतक ही हैं इसलिए यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि इस सीरीज में ही नहीं बल्कि स्वाभाविक रूप से उन्हें टेस्ट क्रिकेट में सुधार लाने की जरूरत है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें