3 कारण जो बताते हैं क्यों इंग्लैंड टी20 विश्व कप 2022 जीत सकता है

England Team
- Advertisement -

22 अक्टूबर, 2022 से शुरू होने वाले सुपर 12 चरण के साथ आगामी ICC T20 विश्व कप 2022 जीतने के लिए इंग्लैंड पसंदीदा में से एक है। वे यूएई में खेले गए 2021 T20 वर्ल्ड कप के दौरान सेमीफाइनल चरण में पहुँचने के बाद अपने इस साल के प्रदर्शन में संशोधन करना चाहेंगे।

इंग्लैंड को न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, अफगानिस्तान, क्वालीफायर से ग्रुप ए के विजेता और क्वालीफायर से ग्रुप बी के उपविजेता के साथ बेहद भयंकर समूह में रखा गया है। इयोन मोर्गन के इस साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से हटने के बाद जोस बटलर टीम की अगुवाई करेंगे।

- Advertisement -

टी20ई प्रारूप में उनका एकमात्र खिताब वेस्ट इंडीज में 2010 के संस्करण के दौरान आया था। इंग्लैंड ने भारत में खेले गए 2016 संस्करण के फाइनल में जगह बनाई। इंग्लैंड वर्तमान में परिस्थितियों के अभ्यस्त होने के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की T20I श्रृंखला में भाग ले रहा है। जोस बटलर एंड कंपनी के लिए गत चैंपियन का सामना करने के लिए यह आदर्श तैयारी होगी।

वे अपना पहला टी20 विश्व कप मैच अफगानिस्तान के खिलाफ 22 अक्टूबर को ऑप्टस स्टेडियम, पर्थ में खेलेंगे। इससे पहले वे दो अभ्यास मैच खेलेंगे। उससे आगे, हम उन 3 कारणों पर गौर करते हैं कि क्यों इंग्लैंड टी20 विश्व कप 2022 जीत सकता है।

#1 विस्फोटक बल्लेबाजी लाइन-अप
इंग्लैंड T20I प्रारूप में सबसे अधिक भयभीत बल्लेबाजी लाइनअप में से एक है। ऑप्टस स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले T20I मैच में, बटलर और एलेक्स हेल्स ने शुरुआती विकेट के लिए 132 रन जोड़े, जिससे 208 रनों की मजबूत नींव पड़ी।

- Advertisement -

इंग्लैंड अपने विस्फोटक बल्लेबाजी क्रम से किसी भी विरोधी आक्रमण को तबाह कर सकता है। डेविड मालन, फिल साल्ट, हैरी ब्रूक्स और मोइन अली बल्लेबाजी क्रम में शामिल हैं। अगर हालात बल्लेबाजी के अनुकूल होते हैं, तो जोस बटलर और अन्य बल्लेबाज विपक्षी गेंदबाजी आक्रमण पर पर्याप्त दबाव डाल सकते हैं।

लियाम लिविंगस्टोन चोट के कारण पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ T20I श्रृंखला से चूक गए। अगर वह प्लेइंग इलेवन में आते हैं, तो इंग्लैंड पहले छह ओवरों में पर्याप्त प्रभाव पैदा कर सकता है और गति को जारी रख सकता है।

जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो जैसे खिलाड़ी के टूर्नामेंट से बाहर होने के कारण, इंग्लैंड को पहले छह ओवरों में विस्फोटक शुरुआत देने के लिए अपने सलामी बल्लेबाजों की तलाश होगी और फिर बाकी की पारी के लिए भी ऐसा ही करना होगा।

#2 बेन स्टोक्स की वापसी

ऑलराउंडर बेन स्टोक्स की वापसी ने इंग्लैंड को एक बेहतर इकाई बना दिया है। वह व्यक्तिगत कारणों से पिछले साल संयुक्त अरब अमीरात में हुए टी20 विश्व कप से चूक गए थे। स्टोक्स अपनी बल्लेबाजी क्षमताओं से खेल का रुख बदल सकते हैं और मध्यक्रम में रनों के प्रवाह को रोकने के लिए विकेट हासिल कर सकते हैं। ऑलराउंडर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले T20I में योगदान देने में विफल रहे, केवल नौ रन ही बना सके।

- Advertisement -

स्टोक्स और सैम करन और मोइन अली जैसे अन्य हरफनमौला खिलाड़ियों की वापसी से इंग्लैंड मजबूत होगा और दूसरी बार प्रतिष्ठित खिताब जीत सकता है। टी 20 विश्व कप 2022 के लिए लियाम लिविंगस्टोन के संदिग्ध होने के कारण, स्टोक्स इस क्रम में बल्लेबाजी कर सकते हैं और अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से प्रभाव पैदा कर सकते हैं।

#3 विविध गेंदबाजी लाइनअप
इंग्लैंड के पास रीस टॉपली और डेविड विली जैसे विविध गेंदबाजी लाइन-अप हैं जो मददगार गेंदबाजी परिस्थितियों में गेंद को स्विंग करा सकते हैं। मार्क वुड के पास तेज गति है जो बल्लेबाजों को आसानी से परेशान कर सकती है।

इन गेंदबाजों के अलावा क्रिस वोक्स अपनी स्विंग से विपक्षी बल्लेबाजों पर दबाव बना सकते हैं। मोईन और आदिल राशिद इंग्लैंड के लिए बड़ी बाउंड्री वाले दो स्पिनर हैं। स्टोक्स एक और विकल्प है जिस पर इंग्लैंड मध्य क्रम में विकेट लेने के लिए भरोसा कर सकता है। यदि गेंदबाजी इकाई एक साथ क्लिक करती है, तो जोस बटलर एंड कंपनी दूसरी बार चैंपियन बन सकती है।

- Advertisement -

इंग्लैंड टी20 विश्व कप टीम : जोस बटलर (कप्तान), मोइन अली, हैरी ब्रूक्स, सैम कुरेन, क्रिस जॉर्डन, लियाम लिविंगस्टोन, डेविड मालन, आदिल राशिद, फिल साल्ट, बेन स्टोक्स, रीस टॉपली, डेविड विली, क्रिस वोक्स, मार्क वुड।

रिजर्व : टायमल मिल्स, लियाम डॉसन, रिचर्ड ग्लीसन।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here