यही कारण है कि मैंने गेंदबाज के रूप में भारत के खिलाफ शतक बनाया – मेंहदी हसन का इंटरव्यू

Mehdi Virat
- Advertisement -

भारत और बांग्लादेश के बीच दूसरा वनडे ढाका स्टेडियम में खत्म हुआ था। इस मैच में पहले खेलने वाले बांग्लादेश ने एक समय 69 रन पर 6 विकेट गंवा दिए थे और सभी को लगा था कि वह 150 रन भी नहीं छू पाएगा लेकिन सातवें विकेट के लिए स्पिनर मेंहदी हसन और मोहम्मदुल्लाह की जोड़ी ने शानदार खेल दिखाया।

- Advertisement -

इस जोड़ी ने सातवें विकेट के लिए 148 रनों की शानदार साझेदारी कर बांग्लादेश को रिकॉर्ड जीत दिलाई। मोहम्मदुल्लाह ने 77 रन बनाए। मेहदी हसन जो मैदान में थे उन्होंने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया और आखिरी गेंद पर शतक बनाया और अंत तक 100 रन बनाकर नाबाद रहे। बांग्लादेश क्रिकेट टीम ने निर्धारित 50 ओवर के अंत में 7 विकेट के नुकसान पर 271 रन बनाए।

जीत के लिए 272 रन का लक्ष्य लेकर खेली भारतीय टीम ने 50 ओवर की समाप्ति पर 9 विकेट खोकर 266 रन बनाए और 5 रन से हार गई। मैच जीतने के अलावा, बांग्लादेश ने एकदिवसीय श्रृंखला भी 2-0 से जीती। ऐसे में इस मैच के बाद अपनी शानदार बल्लेबाजी की बात करने वाले मैन ऑफ द मैच विजेता मेहदी हसन ने कहा, ‘भगवान का शुक्र है कि मुझे यह मौका दिया। मेरे पास कहने के लिए और कुछ नहीं है, मुझे बहुत खुशी हो रही है।”

- Advertisement -

उन्होंने कहा, “पिछले कुछ सालों से मैं बल्लेबाजी पर ध्यान दे रहा हूं और अपनी ट्रेनिंग भी कर रहा हूं। यह मेरे कोचों द्वारा दी गई सलाह और मार्गदर्शन ही था जिसने मुझे इस टूर्नामेंट में शतक बनाने के लिए प्रेरित किया। और जब मैं मैदान पर था तो मोहम्मदुल्लाह मुझे प्रोत्साहित करते रहे कि अगर मैं अंत तक बल्लेबाजी करता हूं तो मैं बड़े रन बना सकता हूं।” उल्लेखनीय है कि मेहदी हासन ने कहा कि मुझे लगता है कि मैंने उस वर्ग में काफी अच्छा खेला हूँ।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here