मोंटी पनेसर ने भारतीय क्रिकेट टीम को सिर्फ 2 खिलाड़ियों पर निर्भर रहने के लिए कड़ी आलोचना करते हुए कहा कुछ ऐसा

Monty Panesar
- Advertisement -

टी20 वर्ल्ड कप का दूसरा सेमीफाइनल मैच कुछ दिन पहले एडिलेड स्टेडियम में संपन्न हुआ। इस मैच में पहले खेलने वाली भारतीय टीम ने 6 विकेट के नुकसान पर 168 रन बनाए और फिर 169 रन के लक्ष्य से खेली इंग्लैंड की टीम ने 16 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए 170 रन से बड़ी जीत हासिल की। इस जीत के साथ उन्होंने फाइनल में प्रवेश किया। इस बीच जिस भारतीय टीम के ट्रॉफी जीतने की उम्मीद थी, वह सीरीज से बाहर हो गई।

इस तरह इस अहम सेमीफाइनल मैच में भारतीय टीम की हार जाने से सभी में भारी असंतोष हुई है। इससे पहले कई पूर्व क्रिकेटरों ने भारतीय टीम के बारे में अपनी राय साझा की है, लेकिन अब इंग्लैंड टीम के पूर्व खिलाड़ी मोंटी पनेसर ने अपनी राय व्यक्त की है कि भारतीय टीम की हार का कारण यह है कि वे केवल दो बल्लेबाजों पर निर्भर थे।

- Advertisement -

इस बारे में उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि इस टी20 वर्ल्ड कप सीरीज में भारतीय टीम ने विराट कोहली और सूर्यकुमार यादव पर काफी भरोसा किया था क्योंकि ये दोनों ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने इस सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया है। हालांकि इस सीरीज में भारतीय टीम काफी अच्छा खेली है, लेकिन कई अहम खिलाड़ी इस सीरीज में प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं।

खासकर केएल राहुल छोटी टीमों के खिलाफ रन बनाते रहे हैं। इस बीच वह बड़ी टीमों के खिलाफ रन नहीं बना पाए हैं। इसी तरह रोहित शर्मा, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत रन नहीं जमा कर सके। इसके अतिरिक्त, स्पिनर अक्षर पटेल और अश्विन गेंदबाजी विभाग में कोई प्रभाव नहीं छोड़ पाए। तेज गेंदबाजों ने चाहे कितना भी अच्छा प्रदर्शन किया हो, जब स्पिनरों के रन लीक हो गए तो इसका फायदा विपक्ष को हुआ।

- Advertisement -

वहीं रोहित शर्मा को भुवनेश्वर कुमार से अच्छी स्विंग गेंदबाजी की उम्मीद थी लेकिन इस सीरीज में उनसे वह भी नहीं निकला। हालांकि भारतीय टीम में कई स्टार खिलाड़ी हैं, लेकिन रोहित शर्मा को मौजूदा फॉर्म को देखते हुए कुछ योजनाओं में बदलाव करना चाहिए था। लेकिन गौर करने वाली बात है कि मोंटी पनेसर ने कहा कि उन्होंने हार मान ली है और अब निकल गए हैं क्योंकि वे बिना कुछ किए ही इस सीरीज की तैयारी कर रहे थे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here