टी 20 विश्व कप 2022: कल के सेमीफाइनल मैच में इस खिलाड़ी को शामिल नहीं करने पर प्रशंसकों ने भारतीय टीम की कड़ी आलोचना की

IND VS ENG
- Advertisement -

भारत, जिसे ऑस्ट्रेलिया में चल रहे टी 20 विश्व कप श्रृंखला के चैंपियन में से एक के रूप में देखा गया था, एडिलेड स्टेडियम में दूसरे सेमीफाइनल मैच में इंग्लैंड के खिलाफ करारी हार के साथ विश्व कप श्रृंखला से बाहर हो गया। इसके बाद पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच फाइनल मैच 13 तारीख को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर होगा।

इस दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में पहले मैच खेलने वाली भारतीय टीम ने 20 ओवर में 168 रन बनाए और अगला मैच खेलने वाली इंग्लैंड की टीम ने 16 ओवर में बिना विकेट खोए 170 रन बनाए और 10 विकेट से जीत हासिल की। इस मैच में भारतीय गेंदबाजों के एक भी विकेट नहीं लेने की विफलता ने कई आलोचनाएँ खड़ी की हैं।

- Advertisement -

हालांकि भारतीय टीम बुमराह और जडेजा जैसे खिलाड़ियों के बिना पहले ही सेमीफाइनल के दौर में पहुंच चुकी थी, लेकिन सेमीफाइनल में भारतीय टीम की खराब गेंदबाजी की पोल खुल गई। खासकर भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी गंभीर और हरभजन ही नहीं बल्कि कई क्रिकेट समीक्षकों, प्रशंसकों और विशेषज्ञों ने भी कहा कि युजवेंद्र चहल को शामिल किया जाना चाहिए जबकि स्पिनरों अक्षर पटेल और अश्विन की गेंदबाजी को पूरी सीरीज के लिए नहीं लिया गया।

इस टी20 वर्ल्ड कप सीरीज में जहां राशिद खान, शदाब खान, आदिल राशिद, एडम जांबा, शम्सी, हजारंगा जैसे कलाई के स्पिनरों ने शानदार प्रदर्शन किया, वहीं इस सीरीज में सिर्फ युजवेंद्र चहल को भारतीय टीम में मौका नहीं दिया गया। बहुत सारे लोग अब कह रहे हैं कि अगर उन्हें ऑस्ट्रेलियाई स्टेडियमों में बोल्ड किया गया होता, तो वह गेंद फेंकते और उसकी वजह से विकेट हासिल करते।

- Advertisement -

कई लोग अब इशारा कर रहे हैं कि भारतीय टीम ने उन्हें टीम में न चुनकर बेंच पर बैठाकर बहुत बड़ी गलती की है। ऐसे में इस सेमीफाइनल मैच के दौरान भी दो ओवर फेंकने वाले अश्विन ने 27 रन देकर खराब गेंदबाजी का परिचय दिया। गौरतलब है कि टीम में कलाई के स्पिनर चहल को मौका न देकर भारतीय टीम ने बड़ी गलती की है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here