T20 विश्व कप में भारतीय टीम की परिस्थिति को लेकर राजकुमार शर्मा ने की बात, इस मामले को बताया भारत की कमजोर कड़ी

Indian Team
- Advertisement -

दिल्ली के पूर्व क्रिकेटर और विराट कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा को लगता है कि टीम इंडिया के पास टी20 विश्व कप में सबसे मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण नहीं है। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के टूर्नामेंट से बाहर होने पर भारतीय टीम को बड़ा झटका लगा।

राजकुमार को लगता है कि भले ही भारत ने मोहम्मद शमी को शामिल किया हो, लेकिन वे अर्शदीप सिंह और हर्षल पटेल जैसे खिलाड़ियों पर बहुत अधिक निर्भर होंगें, जिनके पास T20 विश्व कप जैसे बड़े मंच पर खेलने का पर्याप्त अनुभव नहीं है। रविवार को इंडिया न्यूज से बात करते हुए, कोहली के बचपन के कोच ने कहा:

- Advertisement -

“जसप्रीत बुमराह की अनुपस्थिति हमारे लिए एक बड़ा झटका है और हम अर्शदीप और हर्षल पटेल जैसे अपने युवाओं पर निर्भर रहेंगे। हालांकि हमारे पास अब शमी हैं जो 140+ गेंदबाजी कर सकते हैं, लेकिन फिर भी भारत निश्चित रूप से अन्य टीमों की तुलना में तेज गेंदबाजी विभाग में कमजोर प्रतीत हो रहा है। यह उनकी कमजोर कड़ी लग रही है।”

विश्वास करने के बजाय उम्मीद कर रहा है भारत : सबा करीम
पूर्व चयनकर्ता सबा करीम भी पैनल में मौजूद थे और कमजोर तेज गेंदबाजी को लेकर राजकुमार से सहमत थे। उन्हें लगता है कि भारत उम्मीद करेगा कि चीजें ठीक हो जाएंगी और उनकी गेंदबाजी उभर कर सामने आ जाएगी।

- Advertisement -

करीम ने यह भी कहा कि अगर रोहित शर्मा एंड कंपनी टूर्नामेंट में गहराई तक जाना चाहते हैं तो गेंदबाजी इकाई को कुछ समर्थन देना होगा। उन्होंने कहा: “आशा और विश्वास के बीच अंतर है। अन्य टीमों का मानना ​​है कि उनके रैंक के 140+ तेज गेंदबाज टूर्नामेंट में अच्छी गेंदबाजी करेंगे। दूसरी ओर, हम उम्मीद कर रहे हैं कि शमी और भुवी जैसे खिलाड़ी अच्छी गेंदबाजी करेंगे, हर्षल सुधरेंगे और अर्शदीप भी अपनी फॉर्म ढूंढ लेंगे।”

यह देखना दिलचस्प होगा की 23 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में भारतीय टीम का गेंदबाजी आक्रमण कैसा होगा?

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here