महिला एशिया कप 2022 में पाकिस्तान के हाथों मिली भारत को पहली हार, जानें मैच का हाल और प्रशंसकों की प्रतिक्रिया

PAK vs IND
- Advertisement -

जब भारत और पाकिस्तान की बात हो तो मुकाबला रोमांचक होना चाहिए। और इसी तरह महिला एशिया कप का 13 वां मैच था जब दोनों टीमों के बीच आमना-सामना हुआ। थाईलैंड के खिलाफ दिल दहला देने वाली हार का सामना करने के बाद पाकिस्तान खेल में थोड़े दबाव के साथ आया था, लेकिन उसने पिछली हार को भारत के खिलाफ अपने खेल में बाधा नहीं बनने दिया। दोनों टीमों ने शानदार मुकाबला किया, लेकिन अंत में पाकिस्तान विजयी हुआ और भारत को टूर्नामेंट में एक बड़ा उलटफेर दिया।

मैच की शुरुआत पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के साथ की। सलामी बल्लेबाज, सिदरा अमीन और मुनीबा अली का शुरुआती स्टैंड छोटा था, लेकिन उन्होंने अपने पक्ष को शुरू करने के लिए गति दी, जिससे बल्लेबाजों को बीच में पारी बनाने में मदद मिली। पावरप्ले के अंतिम दो ओवरों में, भारतीय गेंदबाज पूजा वस्त्राकर और दीप्ति शर्मा पाकिस्तान के शीर्ष क्रम को आउट करने में सफल रहे।

- Advertisement -

कप्तान बिस्माह मारूफ और निदा डार ने फिर पाकिस्तान की पारी को आगे बढ़ाया और चौथे विकेट के लिए 76 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। निदा डार अजेय रहीं, और उन्होंने दूसरे छोर पर साझेदारों को खोने के बाद भी टीम के स्कोरबोर्ड चालू रखा था। उनकी नाबाद 37 गेंदों में 56 * ने पहली पारी में पाकिस्तान को कुल 137/6 का स्कोर बनाने में मदद की।

पाकिस्तान के गेंदबाजों ने तोड़ा भारत की जीत का सिलसिला
लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत की शुरुआत आसान नहीं थी। यह भारत का चौथा गेम था, और टीम ने इस टूर्नामेंट में चौथी ओपनिंग जोड़ी को तैनात किया क्योंकि स्मृति मंधाना और सब्भिनेनी मेघना ने भारतीय महिलाओं के लिए पारी की शुरुआत की। जबकि मेघना खेल की शुरुआत में अपने ज़ोन में दिखीं और जल्दी ही बाउंड्री लगाना शुरू कर दिया, लेकिन चौथे ओवर में उनकी पारी समाप्त हो गई जब नशरा संधू ने उन्हें आउट किया।

पावरप्ले के अंत तक, भारत ने अपना इन-फॉर्म बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्स को खो दिया, जिसके बाद पाकिस्तान ने मुकाबले पर पकड़ बना लिया। दयालन हेमलता और स्मृति मंधाना ने तब एक साझेदारी बनाने की कोशिश की और बोर्ड पर कुछ अच्छे रन भी बनाए, लेकिन पाकिस्तान के गेंदबाजों ने भारत की गति को तोड़ते हुए नियमित अंतराल पर विकेट चटकाए।

- Advertisement -

सादिया इकबाल ने मंधाना को आउट किया, पूजा वस्त्राकर एक भयानक रनआउट के बाद चली गईं, और हेमलता ने खेल में अपनी गति खो दी और साथ ही उन्होंने अपना विकेट सस्ते में दे दिया। दीप्ति शर्मा और हरमनप्रीत कौर ने तब मैदान संभाला, लेकिन बल्लेबाजी लाइनअप में बदलाव भारत के लिए अच्छा नहीं रहा। भारतीय टीम ने उम्मीद की एक किरण देखी जब ऋचा घोष ने निडर होकर बल्लेबाजी की और गेंदबाजों पर प्रहार किया।

उन्होंने 13 गेंदों पर 26 रन बनाने के लिए तीन छक्के और एक चौका लगाया और भारत को वास्तव में जीत के करीब पहुंचा दिया, इससे पहले कि उन्होंने अपना विकेट खो दिया। भारत सभी प्रमुख बल्लेबाजों के बिना रह गया, और निचला क्रम अंत में ज्यादा कुछ नहीं कर सका। पाकिस्तान ने अंतिम ओवर में भारत को आउट किया और 13 रनों से खेल जीत लिया, जिससे भारत को टूर्नामेंट की पहली हार मिली। यहाँ देखें ट्विटर पर हुई प्रतिक्रियाएं:

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here