भारत बनाम न्यूजीलैंड : 385 रनों का पीछा कर सकता था लेकिन इस वजह से हम हार गए – टॉम लैथम का इंटरव्यू

Tom Latham
- Advertisement -

भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज अब खत्म हो गई है। तीनों मैच हारने के बाद न्यूजीलैंड की टीम ने भारतीय टीम के सामने पूरी तरह से सरेंडर कर दिया है। यह थोड़ा दुख की बात है कि न्यूजीलैंड की टीम, जिसने प्रमुख खिलाड़ियों के बिना इस श्रृंखला का दौरा किया, को तीनों मैचों में हार का सामना करना पड़ा।

इस हिसाब से भारत और न्यूजीलैंड के बीच कल हुए तीसरे मैच में न्यूजीलैंड की टीम ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। इस मैच में पहले खेलने वाली भारतीय टीम ने 385 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने 41.2 ओवर में 295 रन बनाए और भारतीय टीम को 90 रन से जीत मिली।

- Advertisement -

इस मैच में हार के बारे में बात करते हुए न्यूजीलैंड के कप्तान टॉम लैथम ने कहा, “हमने इस मैच में गेंदबाजी से अच्छी शुरुआत नहीं की। रोहित शर्मा और शुभमन गिल की पार्टनरशिप बेहतरीन रही। हालांकि खुशी की बात यह रही कि भारतीय टीम 385 रन पर ही सिमट गई। इसी तरह लक्ष्य का पीछा करने में भी हम अच्छी स्थिति में थे। लेकिन बीच में काफी विकेट गंवाए और हमें हार का सामना करना पड़ा।”

उन्होंने आगे कहा, “ऐसी प्रतियोगिताओं में एक बड़ी साझेदारी की जरूरत होती है। ऐसा करने में हमारी विफलता के परिणामस्वरूप मैच में विफलता हुई। 50 ओवरों की विश्व कप श्रृंखला से पहले यह श्रृंखला भारत में हमारा आखिरी अनुभव है। इसलिए हमें एक अच्छा विचार आया कि भारत में कैसे खेलना है।”

- Advertisement -

टॉम लैथम ने कहा, “इस सीरीज से विश्व कप सीरीज के दौरान पिछली पंक्ति तक अच्छा खेलने का विचार आया है। मुझे यकीन है कि यह अनुभव सभी के लिए मददगार होगा।” टॉम लैथम ने कहा कि हम ऐसे हालात से बहुत कुछ सीख सकते हैं।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here