आई पी एल 2022 : क्या ऋषभ पंत का एम एस धोनी से तुलना करना सही है ? स्टार ऑलराउंडर की राय ।

Dhoni and pant
- Advertisement -

क्रिकेट प्रशंसकों की ऊंची उम्मीदों के बीच आने वाले शनिवार को मुंबई नगर में आईपीएल की 15वीं सीजन धूमधाम से शुरू होने वाली है। इस साल की पहली मैच में वर्तमान चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स कोलकाता नाइट राइडर्स से भिड़ने वाले हैं। यह श्रृंखला कुल 65 दिन खेले जाएंगे और इस साल इस श्रृंखला में लखनऊ और गुजरात दोनों टीम के जुड़ने के कारण कुल 10 टीम 74 मैच खेलने वाले हैं। इस ब्रह्मांड आईपीएल को देखने के लिए 25% दर्शकों को मैदान में अनुमति दी गई है ।

इस बार कप जीतने के लिए हर टीम पूरी प्रयास कर रही है और बहुत पहले ही अपने सभी खिलाड़ियों को इकट्ठा करके सब तीव्र नेट प्रैक्टिस कर रहे हैं। स्पष्टतः वर्तमान चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स एमएस धोनी के नेतृत्व में इस बार कप को रिटेन करने के लिए 2 हफ्ते पहले ही गुजरात के सूरत नगर में स्पेशल प्रैक्टिस के बाद अब मैच खेली जाने वाली मुंबई नगर जा पहुंची है। इस श्रृंखला में श्रेयस अय्यर, के एल राहुल ,मयंक अग्रवाल, हार्दिक पांड्या जैसे युवा खिलाड़ी कईं टीमों की कप्तानी करने वाले हैं।

- Advertisement -

लेकिन इस बार ऋषभ पंत ने सबका ध्यान आकर्षित किया है क्योंकि इस श्रृंखला में सबसे कम आयु में दिल्ली कैपिटल्स टीम का वे कप्तान होकर पथ प्रदर्शन करने वाले हैं। इस साल की आईपीएल श्रृंखला में एमएस धोनी सबसे अधिक आयु के कप्तान है जो अपनी 40 साल की उम्र में चेन्नई सुपर किंग का नेतृत्व कर रहे हैं। इसमें एम एस धोनी ने बहुत पहले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल दोनों में अपने आप को एक विश्व स्तर का खिलाड़ी साबित कर दिया है। दूसरी तरफ अब बढ़ोतरी कर रहे खिलाड़ी ऋषभ पंत कभी-कभी धोनी के रिकॉर्ड को बहुत ही आसानी से तोड़कर नया रिकॉर्ड बनाते हैं जा रहे हैं।

इसकी वजह से पिछले कुछ समय से ही इन दोनों विकेटकीपर की तुलना करना बहुत ही सामान्य विषय हो गया है । ऐसी स्थिति में अब इसी प्रश्न को दिल्ली कैपिटल्स टीम के कोच नियुक्त किए गए ऑस्ट्रेलिया के भूतपूर्व स्टार ऑलराउंडर शेन वॉटसन से भी किया गया है। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से तुलना की जा रही कई विषयों में यह एक महत्वपूर्ण विषय बन गई है। हर व्यक्ति में एक खास प्रतिभा होती है और सब एक जैसे नहीं होते ।

सब में अलग-अलग प्रतिभा होते हैं और यह दुनिया एमएस धोनी और ऋषभ पंत की तुलना करने की प्रयास कर रही है। लेकिन यह दोनों बहुत ही अलग क्रिकेट खिलाड़ी है। उनके पास विश्व स्तर की प्रतिभा है। विशेषतः ऋषभ पंत बहुत ही सब्र के साथ अपनी पूरी टीम का पथ प्रदर्शन कर रहे हैं । ये बहुत ही बैलेंस्ड है। मैंने यही धोनी एम एस धोनी के पास भी देखा है। अगर सच कहा जाए तो प्रतिभा से भरे हुए ऋषभ पंत के पास एक अच्छे कप्तान बनकर अपने टीम के पथ प्रदर्शन करने की सारी लक्षण और काबिलियत है ।

- Advertisement -

इतनी कम उम्र में ऋषभ पंत द्वारा अचीव किए गए विषय अविश्वसनीय है। भविष्य में वे जरूर अपने द्वारा सीखें गए विषयों से और भी बढ़ोतरी करेंगे और बहुत आगे जाएंगे । साथ ही मैंने कई कप्तान के नीचे खेले हैं और रिकी पोंटिंग मेरे ख्याल से एक सर्वश्रेष्ठ कप्तान है। इस बार पंत उनकी नीचे कोचिंग प्राप्त करने वाले हैं जो बहुत ही अच्छी विषय है। साथ ही एमएस धोनी के साथ तुलना करना एक बहुत ही अच्छा विषय है क्योंकि ऋषभ पंत का खेल उतना श्रेष्ठ रहा है ।

धोनी और पंत दोनों के अलग अलग स्टाइल है और उसी के हिसाब से वे खेल रहे हैं। दिल्ली कैपिटल्स टीम के लिए ऋषभ पंत को अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन देना चाहिए । इसके संबंध में उन्होंने अपनी बात जारी रखी और कहा कि वे दोनों अलग-अलग प्रतिभा से भरे हुए अलग खिलाड़ी है और इन दोनों की तुलना करना मेरे हिसाब से ठीक नहीं होगा । स्पष्टतः इस कम उम्र में इतनी रिकॉर्ड बनाए पंत जरूर भविष्य में सबकी उम्मीदों से भी बढ़कर धोनी की तरह एक अद्भुत खिलाड़ी और कप्तान के रूप में उभरेंगे।

धोनी के नेतृत्व में चेन्नई सुपर किंग्स में खेले शेन वॉटसन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में एक माने जा रहे रिकी पोंटिंग के कोचिंग में दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान बनकर खेलने वाले ऋषभ पंत और भी बढ़ोतरी करके विश्व स्तर के खिलाड़ी बनेंगे । उनमें मुझे पूरा भरोसा है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here